Saturday, 9 April 2016

गतिमान एक्सप्रेस को सफलतापूर्वक शुरू करने के बाद रेलवे के स्पैनिश फर्म टैलगो द्वारा तैयार हाई-स्पीड ट्रेनों का परीक्षण जून में मौजूदा पटरियों पर करने की संभावना है। यह ट्रेन 200 किलोमीटर प्रति घंटे की गति को छू सकती है।
गतिमान को शुरू करने के लिए निजामुद्दीन और आगरा स्टेशनों के बीच पटरियों को मजबूत किया गया। गतिमान देश की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन है। बार्सिलोना से 27 मार्च को एक मालवाहक जहाज से रवाना किए नौ टैलगो डिब्बे फिलहाल रास्ते में हैं। इन डिब्‍बों के 21 अप्रैल तक मुंबई बंदरगाह पर पहुंचने की उनकी संभावना है। स्पैनिश ट्रेन निर्माता ने मौजूदा भारतीय रेल नेटवर्क पर मुफ्त में अपनी तेज ट्रेनों का परीक्षण करने की पेशकश की है।
: गतिमान एक्सप्रेस में ट्रेन होस्टेस के साथ मल्टीमीडिया सुविधाएं, खाने में मिलेगा इडली-डोसा-चिकन रोल
रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार,'पहले टैलगो ट्रेन का परीक्षण बरेली और मुरादाबाद रेल मार्ग पर 115 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार से किया जाएगा। इसके बाद पलवल और मथुरा मार्ग पर अधिकतम 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से परीक्षण किया जाएगा।' तीसरा परीक्षण दिल्ली और मुंबई के बीच अधिकतम 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से किया जाएगा।

0 comments:

Post a comment

Popular Posts