Saturday, 9 April 2016

gatimaan express got loss of 16 lakh in two days

गतिमान एक्सप्रेस लाइवPC: कुमार संजय/अमर उजाला, नई दिल्ली

News Highlights

  • 1360 की क्षमता, 733 यात्रियों ने ही किया सफर
  • गतिमान के प्रति नहीं हो पा रहा है लोगों का रूझान
  • किराया महंगा होना लोग बता रहे हैं कारण 
देश की सबसे तेज चलने वाली ट्रेनों की सूची में अपना नाम दर्ज करा चुकी गतिमान एक्सप्रेस का दो दिन में करीब 16 लाख रुपये का नुकसान हुआ है। दो दिन में केवल 733 यात्रियों ने गतिमान से सफर तय किया। खुद रेलवे के आंकड़े इस बात की पुष्टि कर रहे हैं।

लोगों का मानना है कि गतिमान का किराया अधिक होने के कारण ही यात्रियों का रूझान गतिमान के प्रति नहीं हो पा रहा है। जबकि रेल अधिकारी कहते हैं कि अभी नई-नई ट्रेन चली है इसी लिए लोगों को जानकारी कम है। कुछ दिन बाद स्थिति सुधर जाएगी।

12 कोच वाली गतिमान एक्सप्रेस में 1360 यात्रियों के अप-डाउन सफर करने की व्यवस्था की गई है। इसमे दो कोच जनरेटर सेट के लगे हैं। 8 एसी चेयरकार और दो एक्जीक्युटिव कोच लगे हैं। अप-डाउन में 8 एसी चेयरकार में 1248 और एक्जीक्युटिव क्लास में 112 यात्री सफर करते हैं। यानी एक दिन में सीट फुल होने पर गतिमान की आमदनी 11 लाख 4 हजार रुपये है। रेलवे के आंकड़ों के मुताबिक पहले दिन एसी चेयरकार के 172 और एक्जीक्युटिव क्लास के 39 यात्रियों ने सफर किया था।

पहले दिन ही 525 सीटें खाली थी। जबकि बुधवार को दूसरे दिन निजामुद्दीन से आगरा और आगरा से निजामुद्दीन तक 456 यात्री एसी चेयरकार के और 66 एक्जीक्युटिव क्लास के यात्रियों ने सफर पूरा किया। यानी अप-डाउन में 792 सीटें चेयरकार की और 46 सीटें एक्जीक्युटिव क्लास की खाली रह गई। इस हिसाब से बुधवार को 6,63,000 रुपये का नुकसान और पहले दिन मंगलवार को 9,16,500 रुपये का नुकसान गतिमान हो उठाना पड़ा है।

अभी गतिमान एक्सप्रेस के बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी नहीं है। जैसे-जैसे लोगों को जानकारी होती जाएगी, सीटें भरती जाएंगी। फरीदाबाद, बल्लभगढ़ और पलवल में भी ट्रेन के लिए आरक्षण शुरू कर दिया गया है। जल्द ही यात्रियों की कमी पूरी हो जाएगी।-नीरज शर्मा, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, उत्तर रेलवे

0 comments:

Post a comment

Popular Posts